Skip to main content

ना उड़ सकने वाले पक्षी

ना उड़ सकने वाले पक्षी
आमतौर पर जितने भी पक्षी होते हैं वह सभी आसमान में उड़ सकते हैं लेकिन फिर भी कुछ ऐसे पक्षी है जो उड़ नहीं सकते हैं इस लेख में उन्हीं पक्षियों के बारे में बताया जाएगा इस लिस्ट में सबसे पहला नाम आता है शुतुरमुर्ग का जो दुनिया का सबसे बड़ा पक्षी है और जो उड़ नहीं सकता है शुतुरमुर्ग शुतुरमुर्ग की ऊंचाई लगभग 9 फीट होती है और वजन लगभग डेढ़ सौ किलोग्राम होता है ।शुतुरमुर्ग दक्षिण अफ्रीका में पाया जाता है और यह 25 मील प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकता है यह इतना शक्तिशाली होता है कि इसकी पीठ पर दो आदमी बैठ सकते हैं और यह उनको लेकर दौड़ सकता है। शुतुरमुर्ग का प्रमुख भोजन वनस्पति घास फूस फल फूल अनाज आदि हैं और साथ ही छोटे-मोटे कीड़े मकोड़े छिपकली खा लेता है। एक शुतुरमुर्ग के पास 3 से 4 मादाएं में होती हैं और वह सभी मिलकर एक ही घोसले में अंडे देती हैं ।इसका घोंसला जमीन पर ही होता है। शुतुरमुर्ग के 1 घोंसले में लगभग 15 अंडे होते हैं जो इसकी सारी मादाओं के होते हैं । दूसरा ना उड़ सकने वाला पक्षी है रिआ रिआ रिआ को दक्षिण अमेरिका का शुतुरमुर्ग कहा जाता है। यह शुतुरमुर्ग से मिलता-जुलता होता है लेकिन उसकी ऊंचाई शुतुरमुर्ग से कम होती है ।रिआ की ऊंचाई लगभग 6 से 7 फीट होती है इसके पैर में तीन उंगलियां होती हैं और यह छोटे झुंड में रहना पसंद करता है यह हिरण के झुंड के साथ नजर आता है इनकी नजर बहुत तेज होती है यह अपने शत्रु को ठोकर मार कर गिरा भी सकता है ।यह बहुत तेज दौड़ता है। रिया का प्रमुख भोजन वनस्पति फल फूल जड़ बीज और छिपकली इत्यादि है शुतुरमुर्ग के समान ही रिआ के कई मादा जोड़ीदार होते हैं और सभी मादाएं एक ही घोसले में अंडे देती हैं और सभी आपस में मिलकर रहती हैं।अंडों को नर रिआ सेता है ।ना उड़ सकने वाले पक्षियों के लिस्ट में अगला नाम आता है केसोवरी का। केसोवरी केसोवरी की ऊंचाई लगभग 6 से 7 फीट होती है और यह यह न्यू गायना और उत्तरी क्वींसलैंड (ऑस्ट्रेलिया) के जंगलों में पाया जाता है।यह देखने में बहुत ही सुंदर होता है और इसके परों से ऑस्ट्रेलिया में बहुत सारी सुंदर वस्तुएं बनाई जाती हैं।केसोवरी एक बहुत ही खतरनाक पक्षी होता है और यह हमला करके किसी भी इंसान का पेट फाड़ सकता है। यह घने जंगलों में पाया जाता है और उसकी आवाज बहुत तीखी होती है ।इसके भागने की रफ्तार 30 किलोमीटर प्रति घंटा से अधिक होती है । इसका भोजन फल-फूल अनाज पत्तियां छोटे-छोटे कीड़े हैं। केसोवरी में मादा 3 से 6अंडे देती है और अंडे सेने का काम नर करता है ।शुतुरमुर्ग के बाद एक और ना उड़ सकने वाला विशालकाय पक्षी है एमू एमू एमू की ऊंचाई लगभग 5 फीट होती है और यह ऑस्ट्रेलिया में पाया जाता है यह 4 से 10 के छोटे-छोटे झुंड में रहता है ।इसके दौड़ने की रफ्तार लगभग 50 किलोमीटर प्रति घंटा होती है एमु पक्षियों में नर की तुलना में मादा कुछ बड़ी होती है और इन इन पक्षियों के गले में एक थैली होती है जिसमें हवा भरकर ढोल जैसी आवाज निकालते हैं ।इन पक्षियों में नर और मादा एक जोड़े में रहते हैं और एमू के एक घोसले में 7 से 13 अंडे होते हैं ।अंडे नर एमू सेता है। नर और मादा दोनों ही बहुत सजगता से अपने घोसले की रखवाली करते हैं। एमू पक्षी का भोजन फल फूल घास अनाज और वनस्पति इत्यादि हैं यानी कि शाकाहारी होता है ।ना उड़ने वाले पक्षियों के लिस्ट में एक भारतीय पक्षी भी आता है जो है सारस सारस सारस की ऊंचाई लगभग 4 से 5 फिट होती है और इसका रंग सफेद तथा भूरा होता है इसके पैर और सर लाल रंग के होते हैं नर और मादा लगभग एक जैसे दिखाई देते हैं और यह उत्तर भारत और केंद्रीय भारत में खेतों में दिखाई देता है सारस पक्षी भी जोड़े में ही पाए जाते हैं और यह मनुष्य से ज्यादा डरते नहीं हैं और इन्हें मनुष्य के नजदीक देखा जा सकता है ।इसका भोजन मुख्य रूप से वनस्पति पदार्थ अनाज और कीड़े मकोड़े हैं ।यह अपना घोंसला धान के खेत के बीच में सरकंडे से बनाते हैं और इस घोंसले में आमतौर पर 2 अंडे होते हैं। ना उड़ने वाले पक्षियों में एक छोटे आकार का पक्षी भी आता है जिसका नाम है किवी किवी किवी न्यूजीलैंड में पाया जाता है ।किवी जंगलों में रहता है और दिन में बाहर नहीं निकलता ।रात में भोजन की तलाश में बाहर आता है।शत्रु को देखकर किवी बहुत तेज भागता है और सीटी जैसी आवाज निकालता है। किवी का मुख्य भोजन कीड़े मकोड़े हैं ।किवी अपना भोजन एक आम तौर पर बिल में बनाता है जहां मादा एक या दो अंडे देती है और अंडों को सेने का काम नर करता है

* This article was originally published here

Comments

Popular posts from this blog

What SSL Actually Does for You?

SSL is the acronym for Secure Sockets Layer and is the Internet standard security technology used to establish an encrypted (or safe) link between a web server (website) and your browser (i.e. Internet Explorer, Chrome, Firefox, etc…). This secured link ensures that the data/information that is passed from your web browser to the web server remain private; meaning safe from hackers or anyone trying to spy/steal that info. SSL is the industry standard and is used by millions of websites to protect and secure any sensitive or private data that is sent through their website. One of the most common things SSL is used for is protecting a customer during an online transaction. To establish a secured SSL connection on a web server it requires an SSL Certificate to be properly installed. When completing the process to activate SSL on your web server you will be asked to complete a number of questions to verify the identity of your domain and your company. Once properly completed, your web se…